रोमांचक स्थिति में टेस्ट मैच, भारत को 15 साल बाद एडिलेड में जीत की …

0
58

एडिलेड : चेतेश्वर पुजारा (71) और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (70) के शानदार अर्धशतकों के बाद गेंदबाजों के कसे हुए प्रदर्शन से भारत को मेजबान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट में जीत की उम्मीद दिखाई देने लगी है।

भारत ने मैच के चौथे दिन रविवार को अपनी दूसरी पारी में 307 रन बनाए और ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 323 रन का लक्ष्य रखा, जिसका पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने चार विकेट खोकर 104 रन बना लिए हैं और उसे जीत हासिल करने के लिए अभी 219 रन की जरूरत है जबकि भारत को 4 मैचों की सीरीज में बढ़त बनाने के लिए 6 विकेट चाहिए।

भारत को एडिलेड मैदान पर दूसरी जीत की उम्मीद दिखाई दे रही है। भारत को इस मैदान में जो एकमात्र जीत मिली है, वह उसे सौरव गांगुली के नेतृत्व में दिसंबर 2003 में मिली थी। मुकाबला फिलहाल काफी रोमांचक हो चुका है और दोनों टीमों के लिए उम्मीदें बनी हुई हैं।

भारतीय तेज गेंदबाज और स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को लगातार दबाव में रखा। अश्विन ने भारत को जल्द ही पहली सफलता दिला दी जब उन्होंने आरोन फिंच को विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच करा दिया। पंत का मैच का यह सातवां कैच था। फिंच ने 35 गेंदों का सामना किया और 11 रन में एक चौका लगाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here