Sharad Purnima 2018: इस दिन का बड़ा है ख़ास महत्व, जानिए पूजन की विधि

0
55

डेस्क। शरद पूर्णिमा को हिन्दू धर्म में बहुत ही मान्यता के साथ मानाया जाता है। इसी दिन से सर्दी की शुरुआत मानी जाती है। शरद पूर्णिमा से ही शरद ऋतु यानि सर्दियों की शुरुआत मानी जाती है। माना जाता है इस दिन चंद्रमा सोलह संपूर्ण कलाओं से युक्त होकर अमृत बरसाता है।

इस दिन मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु की विशेष कृपा प्राप्त करने के लिए पूजा करके व्रत रखा जाता है। आइए जानते हैं इस व्रत की पूजा विधि …

  1. इस दिन सुबह इष्ट देव का पूजन करना चाहिए।
  2. इन्द्र और लक्ष्मी जी का पूजन करके घी के दीपक जलाकर उसकी गन्ध पुष्प आदि से पूजा करनी चाहिए।
  3. ब्राह्मणों को खीर का भोजन कराना चाहिए।
  4. लक्ष्मी प्राप्ति के लिए इस व्रत को विशेष रुप से किया जाता है। इस दिन जागरण करने वालों की धन-संपत्ति में वृद्धि होती है।
  5.  रात को चन्द्रमा को अर्घ्य देने के बाद ही भोजन करना चाहिए।

शरद पूर्णिमा के मौके पर श्रद्धालु गंगा व अन्य पवित्र नदियों में आस्था की डुबकी लगाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here