सबरीमाला मंदिर के फिर खुले द्वार, नहीं कर सकी कोई महिला पार

0
45

सुरक्षा व्यवस्था के बीच केरल में दो दिवसीय विशेष पूजा के लिए भगवान अयप्पा मंदिर के दरवाजे दूसरी बार खोले गए. आशंका थी कि मंदिर में सभी आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश से जुड़े सुप्रीम कोर्ट के आदेश का विरोध करने वाले यहां प्रदर्शन कर सकते हैं.

हालांकि, पुलिस ने कहा कि मंदिर में 10 से 50 वर्ष आयु वर्ग की कोई लड़की या महिला नजर नहीं आई लेकिन 30 साल की एक महिला अपने पति और दो बच्चों के साथ पम्बा स्थित आधार शिविर पहुंची है.

बहरहाल, अलप्पुझा जिले के चेरथला की रहने वाली अंजू नाम की इस महिला ने पुलिस को बताया कि वह मंदिर नहीं आना चाह रही थी, लेकिन अपने पति अभिलाष के दबाव में वह पम्बा आई. पुलिस ने दावा किया कि महिला के पति की जिद है कि उसे अपने परिवार के साथ पूजा-अर्चना करने दी जाए.

इस मुद्दे पर केरल पुलिस बयान देती दिख रही है. एक स्थानीय पुलिस अधिकारी ने दावा किया कि महिला ने पुलिस सुरक्षा की मांग की थी, जबकि पुलिस अधीक्षक राहुल आर नायर का कहना है कि महिला ने कोई सुरक्षा नहीं मांगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here