International Yoga Day: पूरी दुनिया योगमय, बाबा रामदेव बनाया वर्ल्ड रिकार्ड

0
215

साल के सबसे लंबे दिन यानी 21 जून को पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है।\

साल के सबसे लंबे दिन यानी 21 जून को पूरी दुनिया में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देहरादून में करीब 55 हजार लोगों के साथ बैठकर योगासन कर किया। यह योग फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट (एफआरआई) के प्रांगण में किया गया। वहीं कोटा में बाबा रामदेव 2.5 लाख लोगों के साथ योग कर वर्ल्‍ड रिकॉर्ड बनया।

दिल्‍ली स्थि‍त अमेरिका के दूतावास में भी योग दिवस के प्रति गजब का क्रेज देखने को मिला। दूतावास के कर्मियों ने जमकर योगासन किए।

 

-गृहमंत्री राजनाथ सिंह दो दिनों लखनऊ दौरे पर हैं। उन्‍होंने लखनऊ स्थित राजभवन में योग कर रहे हैं। यहां उनके साथ उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ भी मौजूद हैं। यहां उन्‍होंने कहा कि योग हमारे प्रधान मंत्री की सांस्कृतिक कूटनीति का एक उदाहरण है।

-पूर्वी नौसेना कमांड के जवान विशाखापत्तनम में बंगाल की खाड़ी में आईएनएस ज्योति पर योग कर रहे हैं। इसमें पूर्वी नौसेना कमान के पनडुब्बी में तैनात जवानों ने भी भाग लिया।

-नौसेना के जवान केरल के कोच्चि में आईएनएस जमुना पर योगासन कर रहे हैं।

-आंध्र प्रदेश में वाइस एडमिरल करमबीर सिंह, पूर्वी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ और नौसेना के कर्मी विशाखापत्तनम में पूर्वी नौसेना कमान में योग कर रहे हैं।
-राजस्थान के कोटा में बाबा रामदेव, आचार्य बालकृष्ण और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे में योगासन कर रहे हैं।
-पीएम मोदी ने कहा कि योग अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य और खुशहाली के लिए दुनिया का सबसे बड़ा जन आंदोलन बन गया है।

Image result for ramdev baba yoga kota today

-पीएम मोदी ने कहा कि आज देहरादून से लेकर डबलिन तक, शंघाई से शिकागो तक योग ही योग है। योग पूरी दुनिया को जोड़ रहा है।

इससे पहले सुबह साढ़े छह बजे पीएम मोदी  भारतीय वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआइ) देहरादून परिसर पहुंचे। लोगों ने तालियों से पीएम का अभिनंदन किया। इस दौरान सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चतुर्थ अंतरराष्‍ट्रीय योग की मेजबानी उत्‍तराखंड को मिलनी गौरव की बात है। कहा आपका (मोदी) का इस देवधरा से विशेष लगाव है, इस लिए आप हमारी चिंता करत हैं। मेजबानी के लिए सीएम ने पीएम मोदी का धन्‍यवाद किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने देशवासियों को दी चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की बधाई दी। उन्होंने कहा कि बिखराव के युग में योग जोड़ने का काम करता है। यह मन-शरीर-आत्मा-बुद्धि को जोड़ता है। संपूर्ण मानवता को जोड़ता है। अपनी विरासत पर हम गर्व करेंगे तो दुनिया भी गर्व करेगी।

इसके अलावा 150 से अधिक देशों में योग दिवस मनाया जाएगा। आयुष मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पूरे देश में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने के लिए करीब 5000 आयोजन होंगे।

चार साल पूर्व शुरू हुए अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की पूर्व संध्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया और संदेश दिया कि योग सेहत की गारंटी का पासपोर्ट है। यह सिर्फ शरीर को फिट रखने के लिए कसरत मात्र नहीं है। उन्होंने कहा कि योग दरअसल मैं से हम की यात्रा है। यह संतुलन और शांति देता है। ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है और असीम ताकत देता है। मैं पूरी दुनिया के लोगों से अपील करता हूं कि वे योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाएं।

2014 से हुई शुरुआत 
संयुक्त राष्ट्र महासभा ने दिसंबर 2014 में घोषित किया था कि हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। इस दिन का महत्व इसलिए भी है कि 21 जून साल का सबसे लंबा दिन होता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में पूरी दुनिया में योग दिवस मनाने का आह्वान किया था।
कोटा में बनेगा विश्व रिकॉर्ड कोटा

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर गुरुवार को राजस्थान के कोटा में दो लाख लोग योग कर रहे हैं। योगगुरु बाबा रामदेव इन लोगों को योग करा रहे हैं। बाबा रामदेव के साथ राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया व अाचार्य बालकृष्ण मौजूद हैं। सरकार का दावा है कि यह विश्व रिकॉर्ड होगा और इसे गिनीज बुक में दर्ज किया जाएगा। इसके लिए गिनीज वालों की टीम कोटा पहुंच गई है। गिनीज व‌र्ल्ड रिकॉ‌र्ड्स में योग करने वालों की सही संख्या दर्ज हो सके, इसके लिए यहां आने वाले सभी लोगों को बारकोड दिए गए हैं। बारकोड की स्कैनिंग के बाद ही आयोजन स्थल पर प्रवेश दिया गया।
दिल्ली में यहां हो रहा है आयोजन
-नई दिल्ली में आठ जगहों पर आयोजन हो रहे हैं। मुख्य कार्यक्रम राजपथ पर हो रहा है।
-ब्रह्मकुमारी संस्था लाल किले पर आयोजन कर रही है। इसमें बीएसएफ, सीआरपीएफ, सीआइएसएफ समेत विभिन्न केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल एजेंसियों की महिला कर्मियों समेत 50,000 लोग शामिल हैं।
-द्वारका में पतंजलि योग समिति और रोहिणी में आर्ट ऑफ लिविंग का आयोजन किया जा रहा है।

क्या है योग दिवस का इतिहास?
गौरतलब है कि यह PM मोदी का ही प्रयास था जिस कारण 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाने लगा। PM मोदी ने 27 सितंबर, 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने संबोधन में योग को अंतरराष्ट्रीय पहचान देने की बात रखी। इसके बाद 11 दिसंबर 2014 को यूएन में 177 सदस्य देशों ने 21 जून को इस दिवस के रूप में अपनी सहमति जता दी। मोदी के इस प्रस्ताव को महज 90 दिनों के अंदर पूर्ण बहुमत से पारित किया गया, जो यूएन में किसी दिवस प्रस्ताव के लिए सबसे कम समय का रिकॉर्ड है। आपको बता दें कि ये चौथा योग दिवस है। इससे पहले भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलग-अलग शहरों में जाकर योग दिवस मनाया था. पीएम मोदी ने पहला योग दिवस दिल्ली में, दूसरा योग दिवस चंडीगढ़ में, तीसरा योग दिवस लखनऊ में मनाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here