मराठा आरक्षण आंदोलन की आग हुई तेज, मुंबई में आज ‘जेल भरो आंदोलन’

0
99

मुंबई: महाराष्ट्र में आरक्षण की मांग को लेकर मराठा आंदोलन की आग अब तेज होती जा रही है. महाराष्ट्र में एक श्रमिक और एक छात्र के अपनी जान लेने के साथ ही मराठा आरक्षण आंदोलन की मांग को लेकर खुदकुशी करने वालों की संख्या बढ़कर छह हो गयी है. वहीं, राज्य में इस मुद्दे को लेकर आठ लोगों ने आत्मदाह की भी कोशिश की. आज मराठा समुदाय के लोग मुंबई में जेल भरो आंदोलन करेंगे. हालांकि, मुंबई पुलिस का दावा है कि जेल भरो आंदोलन के मुद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लिये गये हैं.

बता दें कि मराठा क्रांति मोर्चा सरकार नौकरी और शिक्षा में अपने समुदाय के लिए आरक्षण की मांग कर रहा है. आज मराठा क्रांति मोर्चा ने ही जेल भरो आंदोलन का आह्वान किया है. आंदोलन मुंबई के आजाद मैदान में होगा. बता दें कि इससे पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बीते शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी और इस विषय पर चर्चा किया था.

पुलिस के मुताबिक औरंगाबाद जिले में फुलांबरी तहसील के वदोदबाजार गांव में 17 वर्षीय छात्र ने कुएं में छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली. एक अधिकारी ने बताया कि प्रदीप हरि म्हेस्के को दसवीं की परीक्षा में 75 प्रतिशत अंक मिले थे लेकिन मराठा आरक्षण नहीं होने के कारण एक जूनियर कॉलेज और तकनीकी प्रशिक्षण संस्थान में उसका नामांकन नहीं हो सका था. म्हास्के के खुदकुशी कर लेने से महाराष्ट्र में प्रदर्शन और तेज हो गए हैं. मराठा समुदाय के लोगों ने औरंगाबाद-जलगांव मार्ग पर ‘रास्ता रोको’ प्रदर्शन शुरू कर दिया.

पुलिस ने बताया कि मराठवाड़ा क्षेत्र के बीड़ जिले के वीदा गांव के 35 वर्षीय खेत मजदूर अभिजीत देशमुख ने अपने घर के समीप एक पेड़ से फांसी लगा ली. उन्होंने बताया कि मराठवाड़ा क्षेत्र के लातूर जिले में मराठा आरक्षण की मांग को लेकर आ‍ठ प्रदर्शनकारियों ने अपने शरीर पर किरोसिन छिड़ककर आत्मदाह की कोशिश की. मराठा समुदाय के लोगों ने कहा है कि राज्य की भाजपा नीत सरकार प्रदर्शनकारियों के खिलाफ दर्ज आपराधिक मामलों को वापस लेने में ‘विफल’ रही है और इसके खिलाफ आज वे मुंबई में प्रदर्शन करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here