दिल्ली-NCR में आज आएगी तेज आंधी-बारिश, देशभर में फिर सक्रिय होगा कमजोर पड़ा मानसून

0
46

भारतीय मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि अगले तीन घंटे के दौरान दिल्ली के साथ एनसीआर में भी आंधी आने की प्रबल संभावना है।

देश में दक्षिण-पश्चिम से चला मानसून चंद रोज की तेजी के बाद कमजोर पड़ गया है। इसके अगले पांच-छह दिनों में फिर से सक्रिय होने की संभावना है। इस दौरान दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में कुछ स्थानों पर गरज के साथ बारिश हो सकती है। मानसून की स्थिति सामान्य रहने की उम्मीद है। यह जानकारी मौसम विभाग ने दी है।

वहीं, मौसम विभाग ने अगले कुछ घंटे में सोमवार को दिल्ली-एनसीआर में हल्की बारिश और 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे से तेज हवाओं के चलते की भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग के मुताबिक, न केवल दिल्ली-एनसीआर बल्कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भी हल्की बारिश होगी और धूल भरी आंधी चलेगी।

दक्षिण-पश्चिमी मानसून जल्द होगा सक्रिय

मानसून अपनी उत्तरी सीमा को छूता हुआ ठाणो (मुंबई), अहमदनगर, बुलढाना, अमरावती, गोंदिया, तीतलागढ़, कटक, मेदिनीपुर, ग्वालपाड़ा और बागडोगरा तक जाता है। दक्षिण-पश्चिमी मानसून 15 जून से पहले तेजी से सक्रिय हुआ था, लेकिन इस समय यह बिल्कुल शांत है। इसके अगले पांच-छह दिन में एक बार फिर सक्रिय होने की आशा है। यह जानकारी मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने दी है।

महापात्रा के अनुसार ओडिशा और पूर्वी भारत के ज्यादातर इलाकों में 23-24 जून को बारिश शुरू हो जाएगी। जबकि आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और दक्षिण के अन्य इलाकों में 26 जून से बरसात शुरू होगी। मौसम विभाग ने 18 जून को कोंकण के कुछ इलाकों, गोवा और कर्नाटक के तटीय इलाकों में भारी बारिश के आसार जताए हैं।

दिल्ली-एनसीआर में सोमवार को आएगी आंधी व बारिश के भी हैं आसार

दिल्ली के साथ एनसीआर को भी आंधी-तूफान से फिलहाल राहत मिलती नहीं दिखाई दे रही है। भारतीय मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि अगले तीन घंटे के दौरान दिल्ली के साथ एनसीआर में भी आंधी आने की प्रबल संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, आगामी तीन घंटों के दौरान हल्की बारिश हो सकती है साथ ही 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं भी चलेंगी।

इससे पहले मौसम विभाग में वैज्ञानिक सुनीता देवी ने शनिवार को भविष्यवाणी की थी कि दिल्ली समेत कई राज्यों में आंधी तूफान आने के साथ बारिश भी हो सकती है, साथ ही आगामी दिनों में तेज हवाएं भी चलने के आसार हैं।

वहीं, स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया था कि अगले कुछ दिनों में दिल्ली के मौसम में काफी बदलाव देखने को मिलेंगे। जम्मू कश्मीर में पश्चिमी विक्षोभ के अलावा पंजाब के उत्तरी हिस्से से उत्तर प्रदेश तक एक ट्रफ बनता दिखाई दे रहा है। हालांकि यह बारिश काफी कम समय के लिए होगी, लेकिन इससे तापमान में तीन से चार डिग्री की गिरावट आने की संभावना है।

महेश पलावत की मानें तो हवाओं की दिशा में भी बदलाव हो रहा है। दक्षिणी पश्चिमी हवाएं दिल्ली आना शुरू हो जाएंगी। इसकी वजह से सोमवार और मंगलवार से एक बार फिर उमस भरी गर्मी से लोगों का सामना होगा। गौरतलब है कि दिल्ली में जून में 82 एमएम बारिश होती है, लेकिन अभी तक पालम में 27 एमएम और सफदरजंग में 5 एमएम बारिश दर्ज हुई है।

उत्तर प्रदेश में 18 की मौत

बता दें कि पिछला पूरा सप्ताह समूचा उत्तर प्रदेश धूल भरी धुंध की आगोश में रहा। वहीं, आंधी-बारिश ने उत्तर प्रदेश के आंबेडकरनगर, सीतापुर और गोंडा जिले में भारी तबाही मचाई है। इस दौरान हुए हादसों में 13 की मौत हो गई और छह घायल हो गए। दूसरी ओर भीषण गर्मी के कारण भी पांच लोगों ने दम तोड़ दिया। पीएम 10 का खतरनाक लेवल दिल्ली-एनसीआर के इलाकों में खतरनाक स्तर पर है और पीएम 2.5 का लेवल भी काफी गंभीर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here