दिल्ली के CM केजरीवाल ने CCTV पर उपराज्यपाल की बनाई समिति की रिपोर्ट फाड़ी

0
126

नई दिल्ली:  दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में सीसीटीवी के मुद्दे पर सभी रेजिडेंट वेलफेयर सोसाइटी के साथ हो रही बैठक को संबोधित करते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने CCTV पर एलजी अनिल बैजल की बनाई समिति की रिपोर्ट फाड़ दी.

उन्होंने पहले जनता से पूछा ”तो इस रिपोर्ट का क्या करें? जनता से आवाज़ आई ‘फाड़ दो’. इसके बाद केजरीवाल ने कहा ”जनता की मांग है कि इस रिपोर्ट को फाड़ दो तो जनता जनार्दन है लोकतंत्र है’ और ये कहते हुए केजरीवाल ने करीब दस हज़ार की जनता के बीच वो रिपोर्ट फाड़ दी. दरअसल दिल्ली के मुख्यमंत्री का आरोप है कि एलजी अनिल बैजल की बनाई इस समिति की रिपोर्ट दिल्ली में लाइसेंस राज को बढ़ाएगी.

केजरीवाल ने कहा कि ‘इस रिपोर्ट में लिखा है कि कोई अगर दिल्ली में सीसीटीवी कैमरा लगाएगा फिर चाहे सरकार हो, मार्केट एसोसिएशन लगाए, चाहे RWA लगाए या कोई कंपनी वाले लगाए, उसको पुलिस से लाइसेंस लेना होगा. मैं कह रहा हूं तुमसे हथियारों के लाइसेंस तो दिए नहीं जाते तुमसे पुलिस का काम तो होता नहीं है. अब तुम सीसीटीवी कैमरा के लाइसेंस दोगे’.

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि लाइसेंस असल में पैसा खाने का तरीका है. केजरीवाल ने कहा ‘मैं आपसे पूछता हूं लाइसेंस का क्या मतलब है? पैसा चढ़ाओ लाइसेंस ले जाओ’. दरअसल केजरीवाल जिस रिपोर्ट को ख़ारिज कर रहे हैं वो एलजी अनिल बैजल के कहने पर दिल्ली के गृह सचिव मनोज परिदा की अध्यक्षता में बनाई गई थी जिसका मुख्य उद्देश्य सीसीटीवी कैमरा लगाने के लिए नियम, कायदे और प्रक्रिया तय करना था.

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘अगर किसी को भी सार्वजनिक स्थल पर सीसीटीवी कैमरा लगाना है तो वो कैमरा लगाने का उद्देश्य, कैमरा की संख्या, लोकेशन और फुटेज को रखने की सभी जानकारी दिल्ली पुलिस के डीसीपी (लाइसेंस) को देगा. डीसीपी (लाइसेंस) देखेंगे कि जो जानकारी दी गई वो नियम, कायदे और प्रक्रिया के अनुरूप है या नहीं. अगर नहीं है तो सीसीटीवी लगाने को निर्देश देकर उसको नियम के अनुरूप करवाएंगे’.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here