RBI की पॉलिसी से पहले शेयर बाजार में उछाल, ऊंचाई पर सेंसेक्स-निफ्टी

0
94

नई दिल्ली: देश के शेयर बाजारों में बुधवार को तेजी रही. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 14.68 अंकों की तेजी के साथ 37,621.26 पर और निफ्टी 13.85 अंकों की तेजी के साथ 11,370.35 पर खुला. शेयर बाजार में यह तेजी भारतीय रिजर्व बैंक की नीतिगत घोषणा से पहले दिखाई दी. इससे पहले मंगलवार को रुपये में भी तेजी दिखी और यह डॉलर के मुकाबले 13 पैसे मजबूत हो 68.54 रुपये प्रति डॉलर के दो सप्ताह के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ था. अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखने की उम्मीद से रुपए को बल मिला था.

बाजार में तेजी का सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा और बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 112.18 अंक की बढ़त के साथ 37,606.58 के साथ नई ऊंचाई पर बंद हुआ था. रिलायंस इंडस्ट्रीज, एचयूएल, इन्फोसिस और हीरो मोटो कार्प में बाद में की गयी लिवाली से बाजार में तेजी आयी थी.

आपको बता दें कि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 36.95 अंक या 0.33 प्रतिशत की तेजी के साथ 11,356.50 अंक पर बंद हुआ. यह लगातार चौथा कारोबारी सत्र है जब 50 शेयरों पर आधारित निफ्टी में तेजी आयी. तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 112.18 अंक या 0.30 प्रतिशत की बढ़त के साथ 37,606.58 अंक की रिकार्ड ऊंचाई पर बंद हुआ था. वाल स्ट्रीट में कल के नुकसान के बाद मुनाफावसूली तथा एशियाई बाजारों में मिले-जुले रुख के बीच शेयर बाजार में अधिकतर समय में नकारात्मक रुख रहा.

कारोबारियों के अनुसार रिजर्व बैंक की बुधवार को पेश होने वाली मौद्रिक नीति से पहले निवेशक सतर्क नजर आये और मुनाफावसूली को तरजीह दी. बैंक शेयरों में आज गिरावट देखी गयी. एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक तथा एक्सिस बैंक 3.23 प्रतिशत तक नीचे आये. हालांकि रुपये में सुधार, घरेलू संस्थागत निवेशकों की लिवाली, चुनिंदा कंपनियों के बेहतर तिमाही परिणाम तथा शेयर केंद्रित लिवाली से बाजार फिर से मजबूत हुआ.

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘रिजर्व बैंक और अमेरिकी फेडरल रिजर्व की नीति से पहले सतर्क रुख रहा. इससे शेयर बाजारों में शुरुआत कमजोर रही. हालांकि कमाई में वृद्धि से बाजार को बल मिला और यह लाभ के साथ बंद हुआ. लाभ में रहने वाले प्रमुख शेयरों में रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे आगे रही. कंपनी का शेयर 3.14 प्रतिशत मजबूत होकर रिकार्ड 1,185.85 पर बंद हुआ. मंगलवार को बढ़त के साथ बाजार पूंजीकरण के लिहाज से टीसीएस को पीछे छोड़ते हुए आरआईएल देश की सबसे मूल्यवान कंपनी बन गयी है.

हीरो मोटो कार्प में 2.77 प्रतिशत तथा एचयूएल में 2.52 प्रतिशत की मजबूती आयी. जिन अन्य प्रमुख कंपनियों के शेयरों में तेजी आयी, उसमें विप्रो (1.21 प्रतिशत), बजाज आटो (1.19 प्रतिशत), इन्फोसिस (0.88 प्रतिशत), ओएनजीसी (0.85 प्रतिशत), सन फार्मा (0.61 प्रतिशत), एल एंड टी (0.52 प्रतिशत), कोटक बैंक (0.33 प्रतिशत) तथा एचडीएफसी बैंक (0.17 प्रतिशत) शामिल हैं. दूसरी तरफ एक्सिस बैंक 3.23 प्रतिशत नीचे आया. बैंक के शुद्ध लाभ में अप्रैल-जून तिमाही में 46 प्रतिशत की गिरावट के बाद शेयर नीचे आया. इसके अलावा आईसीआईसीआई बैंक एक प्रतिशत से अधिक नीचे आया. एचडीएफसी (1.64 प्रतिशत), एसबीआई (1.33 प्रतिशत), आईटीसी (1.30 प्रतिशत), टाटा मोटर्स (1.18 प्रतिशत) तथा वेदांता (1.11 प्रतिशत) में गिरावट दर्ज की गयी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here