भारत बंद में नहीं होगी कोई हिंसा, 21 पार्टियों का मिला समर्थन: कांग्रेस

0
81

देशभर में हर रोज पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है. एक ओर जहां पेट्रोल और डीजल की कीमत बढ़ रही है तो वहीं रुपये भी डॉलर के मुकाबले हर नए दिन के साथ निचले स्तर पर गिरता जा रहा है. 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव और उससे पहले 4 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस इस मुद्दे को हर हाल में भुनाना चाहती है.

देश की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस को तेल की बढ़ती कीमत और रुपये में जारी गिरावट के जरिए केंद्र की मोदी सरकार पर हमला करने का मुद्दा मिल गया है.

पार्टी ने इसको लेकर सोमवार को भारत बंद भी बुलाया है. कल होने वाले बंद को लेकर कांग्रेस को अन्य विपक्षी दलों का भी साथ मिल रहा है. भारत बंद से पहले दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने कहा कि इस बंद में 21 पार्टियां शामिल होंगी. आपको बता दें कि लेफ्ट पार्टियां, डीएमके और एमएनएस ने पहले ही कांग्रेस के भारत बंद का समर्थन किया है.

कांग्रेस के पूर्व सांसद अजय माकन ने कहा कि कांग्रेस ने सोमवार को भारत बंद बुलाया है. पार्टी ने बंद पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों और रुपये में गिरावट के खिलाफ बुलाया है. उन्होंने कहा कि बंद में किसी भी तरह की हिंसा नहीं होगी. माकन ने व्यापारियों से भी बंद को सफल बनाने की अपील की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here