Published On: Tue, Oct 3rd, 2017

लास वेगास अटैक में पहले लगा कि पटाखे फूटे, फिर भागे लोग

Share This
Tags

लास वेगास. यूएस-91 हार्वेस्ट फेस्टिवल में रविवार रात करीब 10 बजे पॉप स्टार जैसन एल्डीन का परफॉर्मेंस चल रहा था। यह 4 साल से हो रहा है। कार्यक्रम कुछ देर में खत्म होने वाला था कि पट-पट की आवाजें सुनाई दीं। लोगों ने सोचा कि पटाखे फूट रहे हैं, लेकिन फौरन ही लोग गिरने लगे। खून के छींटे देख चीख-पुकार मच गई। बदहवास लोग भागे। बता दें कि इस घटना में 58 लोगों की मौत हुई है, 500 से ज्यादा जख्मी हुए हैं। गेट खोला तो हमलावर की डेड बॉडी मिली…

पुलिस ने स्टेज पर मौजूद गायक जैसन और टीम को सुरक्षित निकाला। बाकी लोग जमीन पर रेंग रहे थे। पुलिस ने सैकड़ों लोगों को सुरक्षित जगहों तक पहुंचाया। इसी बीच पता चला कि होटल- कसीनो मेंडले-बे की 32वीं मंजिल से फायरिंग हो रही है। पुलिस वहां पहुंची। दरवाजा खोलने के लिए कंट्रोल्ड ब्लास्ट किया, लेकिन हमलावर मरा मिला।
हमलावर के रूम से 10 लोडेड रायफल बरामद
– हमलावर स्टीफन रूम में मृत मिला। कमरे से 10 लोडेड ऑटोमेटिक रायफल बरामद हुई। पुलिस को अब तक हमले की वजह का पता नहीं चला है। पुलिस ने फिलीपींस मूल की इस महिला को हिरासत में लिया गया है।
ऊंचाई का फायदा: हमलावर को ऊंचाई का फायदा मिला। उसने सिर्फट्रिगर पर उंगली रखी। लोग अंदाजा तक नहीं लगा पाए कि गोलियां कहां से आ रही हैं। वे लेट गए फिर भी मारे गए। हमलावर मैग्जीन के साथ पोजिशन भी बदलता रहा।
बंदूक कंपनियों के शेयर 3.6% तक चढ़े: घटना के बाद अमेरिकी बंदूक कंपनी स्टॉर्म रगर के शेयर 3.6% तक चढ़े। वहीं आउटडोर ब्रांड्स में 3.4% की तेजी रही। लोगों को लगता है कि सुरक्षा के लिए अब और ज्यादा हथियार बिकेंगे।
वर्ल्ड मीडिया ने क्या लिख इस हमले पर?
बीबीसी: अमेरिका के गन कल्चर पर सवाल उठाए। लिखा कि क्यों अमेरिकी नागरिकों को बंदूकों से इतना प्यार है। वह इस मामले में दुनिया में सबसे आगे क्यों है।
फॉक्स न्यूज: वेगास इन शॉक शीर्षक से अमेरिकी इतिहास की सबसे बड़ी गोलीबारी की घटना बताया है। हमलावर ने 58 जानें लेने के बाद खुदकुशी कर ली।
द सन: फेस ऑफ एविल शीर्षक के साथ अमेरिका के बंदूक प्रेम पर सवाल उठाए हैं। कहा गया है कि अमेरिका को इस तरह के हमले रोकने लिए सख्त गन पॉलिसी बनानी चाहिए।
9/11 के बाद अब तक का सबसे बड़ा नरसंहार, इस साल गोलीबारी की 400 घटनाएं
– 1966: टेक्सास की यूनिवर्सिटी में हमला टेक्सास के ऑस्टिन में पूर्व मरीन चार्ल्स जोसेफ ने 18 लोगों की हत्या कर दी थी। बाद में पुलिस ने उसे मार गिराया था। उसने भी टावर से छात्रों पर गोलियां बरसाईं थी।
– 1991: 23 लोगों को मारा, खुदकुशी की 16 अक्टूबर 1991- टेक्सास के किलीन में जॉर्ज हेनार्ड नाम के एक सिरफिरे युवक ने 23 लोगों की सरेराह हत्या कर दी थी। उसने खुद को भी गोली मार ली थी।
– 2007: वर्जीनिया में 32 लोगों की हत्या 16 अप्रैल 2007- वर्जीनिया के वर्जिनिया टेक में 23वर्षीय छात्र सिउंग-हू चो ने दो जगह गोलीबारी कर 32 लोगों को मार डाला था। उसके बाद खुद को भी गोली मार ली थी।
– 2012: 20 बच्चों समेत 26 लोगों की हत्या 14 दिसंबर 2012- न्यूटन के एलिमेंट्री स्कूल में एडम लैंजा नामक हमलावर ने अपनी मां, 20 बच्चों समेत 26 लोगों को मार डाला था। बाद में उसने खुद को भी गोली मार ली थी।
vegas-2_1507015454

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

ताज़ा खबर