भारत में पूरी तरह से इलेक्ट्रिक कारों का सपना कब तक होगा पूरा, जानिये यहां

0
174

सरकार ने 2030 तक लक्ष्य रखा है की सभी गाड़ियां सिर्फ इलेक्ट्रिक होंगी, लेकिन जापानी कार कंपनी टोयोटा की माने तो ऐसा संभव 2050 से पहले नहीं हो पायेगा

नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। देश में प्रदूषण को कम करने के लिए सरकार लगातार कोशिश कर रही है, खातौर पर ऑटो सेक्टर को लेकर बड़े बदलाव की उम्मीद की जा रही है, सरकार ने 2030 तक भारत में 100 फीसद  इलेक्ट्रिक कारें ही होंगी। सरकार ने 2030 तक लक्ष्य रखा है की सभी गाड़ियां सिर्फ इलेक्ट्रिक होंगी, लेकिन जापानी कार कंपनी टोयोटा की माने तो ऐसा संभव 2050 से पहले नहीं हो पायेगा, मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो सरकार ने 2030 तक 100 फीसद इलेक्ट्रिक कारों के लक्ष्य से खुद ही अपने कदम खींच लिए हैं। उन्हें भी इस  बात का अहसास हो चुका है कि तय समय सीमा तक भारत में इलेक्ट्रिक चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर पाना मुमकिन नहीं हो पायेगा।

टोयोटा की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार कंपनी अगले 5 वर्षों में इलेक्ट्रिक, हाइब्रिड हाइड्रोजन या किसी भी अन्य तकनीक को लाने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। देखने वाली बात यह होगी की हाल ही में सेडान यारिस को भारत में लॉन्च करने के बाद अब कंपनी का अगला कदम क्या होगा।

जानकारी के लिए बता दें कि  यारिस अपने मिड-साइड सेडान सेगमेंट में सबसे ज्यादा सेफ्टी फीचर्स से लैस है, और यही वजह है कि इस सेगमेंट की अन्य कार कंपनियां के लिए यह किसी सिर दर्द से कम नहीं है। यारिस को भारत में लगातार अच्छा रिस्पोंस मिल रहा है कंपनी के मुताबिक यारिस के लिए 60,000 कस्टमर्स ने अब तक इंक्वॉयरी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here