झारखंड में वज्रपात से चार लोगों की मौत, तीन घायल

0
179

झारखंड में आंधी और पानी के साथ हुए वज्रपात में चार लोगों की मौत हो गई।

जागरण न्यूज नेटवर्क, रांची। वज्रपात एक बार फिर झारखंड के लोगों के लिए जानलेवा सिद्ध होने लगा है। रविवार की दोपहर आंधी-पानी के साथ हुए वज्रपात में चार लोगों की मौत हो गई। दो की मौत रामगढ़ में जबकि चतरा व लोहरदगा में एक-एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं, वज्रपात की चपेट में आने से महिला समेत तीन लोग व कई मवेशी झुलस गए।

जानकारी के अनुसार, रामगढ़ के पतरातू प्रखंड के भदानीनगर ओपी क्षेत्र चैनगड़ा में दोपहर लगभग दो बजे हुए वज्रपात से बिट्टू तुरी (25) व राहुल तुरी (16) की मौत हो गई। दोनों सगे चचेरे भाई थे और रांची जिले के खलारी डकरा के भूतनगर के रहने वाले थे। वे शनिवार को मंडा पूजा को लेकर चैनगडा तुरी टोला स्थित अपने रिश्तेदार के घर आए थे। रविवार को मंडा मेले से लौटने के बाद बिट्टू व राहुल अपने बहनोई सुनील तुरी के घर आए। यहां उन लोगों ने खाना खाया। गर्मी ज्यादा होने के कारण बालेश्वर के घर के समीप ही स्थित नीम के पेड़ के पास दोनों खड़े थे।

इसी बीच, अचानक हुए वज्रपात की चपेट में दोनों आ गए और मौके पर ही उनकी मौत हो गई। वहीं नीम पेड़ के बगल में ही स्थित अपने घर के आंगन में बर्तन धो रही सुरेंद्र उरांव की पत्नी किरण देवी (35) वज्रपात की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे तत्काल इलाज के लिए पतरातू अस्पताल पहुंचाया गया। दूसरी ओर चतरा के गिद्धौर प्रखंड के पहरा गांव में वज्रपात से एक ग्रामीण व एक बकरी की मौत हो गई। मृतक की पहचान पहरा गांव के सोनू साव के रूप में हुई। वहीं बिल्ट साव नामक युवक की दो बकरियां घायल हो गई। वहीं, लोहरदगा में भी वज्रपात की चपेट में आने से एक किसान की मौत हो गई। दो अन्य युवक झुलस गए हैं। दोनों युवकों का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

लोहरदगा के सदर थाना क्षेत्र के भक्सो हर्रा टोली निवासी रंथा लोहरा रविवार को खेत में क्यारी बना रहा था तभी अचानक वज्रपात हो गया। जिसकी चपेट में आने से रंथा की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं गांव का ही प्रदीप उरांव झुलस गया। जिले के भंडरा थाना क्षेत्र की भौंरो पंचायत के बलसोता गांव में वज्रपात से रेयाज अंसारी (28) घायल हो गया। वह सदर अस्पताल में इलाजरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here