जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, छह आतंकी ढेर

0
111

सेना के जवानों ने उत्तरी कश्मीर के केरन कुपवाड़ा सेक्टर में घुसपैठ का प्रयास नाकाम कर छह आतंकियों को मार गिराया।

सेना के जवानों ने रविवार को उत्तरी कश्मीर के केरन कुपवाड़ा सेक्टर में घुसपैठ का प्रयास नाकाम कर दिया। इस दौरान हुई मुठभेड़ में छह आतंकियों को मार गिराया है। अभी तक मारे गए आतंकियों के अन्य साथियों की धरपकड़ के लिए अभियान जारी है।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल राजेश कालिया ने बताया कि एलओसी पर गश्त कर रहे जवानों ने आज तड़के गुलाम कश्मीर की तरफ से कुछ लोगों को भारतीय सीमा में दाखिल होते देखा। स्वचालित हथियारों से लैस यह लोग जैसे ही तारबंदी के पास पहुंचे, जवानों ने उन्हें ललकारते हुए आत्मसमर्पण के लिए कहा।

जवानों की ललकार सुनते ही घुसपैठियों ने अपनी पोजिशन लेते हुए फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी जवाबी फायर की और मुठभेड़ शुरू हो गई। करीब तीन घंटे तक दोनों तरफ से गोलियों की बौछार होती रही। इसके बाद जब जवानों ने सावधानीपूर्वक आगे बढ़ते हुए तलाशी ली तो उन्हें गोलियों से छलनी छह आतंकियों के शव मिले। मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार भी बरामद हुए हैं।

वहीं, उत्तरी कश्मीर के रयनार, बांडीपोर में शनिवार को हमला कर भागे आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर ली है। रात करीब आठ बजे सेना की 14 आरआर के जवानों का दल बांडीपोर के रयनार जंगल से गुजर रहा था। आतंकियों का एक दल वहां पहले से ही घात लगाकर बैठा था। जैसे ही जवान वहां पहुंचे, आतंकियों ने हमला कर दिया।

जवानों ने खुद को बचाते हुए अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायर किया।कुछ ही देर बाद आतंकी और वह वहां से भाग निकले। इस हमले में जवानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।आतंकियों को पकड़ने के लिए पूरे इलाके की घेराबंदी की गई है।

इधर, आतंकी समीर टाइगर के मारे जाने के लगभग एक माह बाद उसके चचेरा भाई जाहिद नजीर भी आतंकी बन गया है। उसने सोशल मीडिया पर एसाल्ट राइफल संग अपनी तस्वीर वायरल कर आतंकी बनने का एलान किया है।एसएसपी पुलवामा चौ. मोहम्मद असलम ने जाहिद नजीर बट के आतंकी बनने की पुष्टि करते हुए बताया कि वह 30 अप्रैल को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए दुर्दांत आतंकी समीर टाइगर का चचेरा भाई है। जाहिद नजीर बट भी द्रबगाम का ही रहने वाला है।

वह बीते कुछ दिनों से गायब था और सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीर के वायरल होने के बाद ही उसके आतंकी बनने की पुष्टि हुई है।इस बीच एक अन्य पुलिस अधिकारी ने कहा कि जाहिद नजीर बट के आतंकी संगठन में शामिल होने से किसी को हैरानी नहीं हुई है। वह शुरू से ही आतंकियों के साथ लगातार संपर्क में था और उनके लिए न सिर्फ मुखबरी करता था बल्कि उनके हथियारों को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने का भी बंदोबस्त करता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here