Published On: Thu, Mar 29th, 2018

इसरो की एक और उड़ान: GSAT-6A लॉन्च, कम्युनिकेशन में करेगा मदद; एक साल में 5 मिशन, 4 कामयाब

Share This
Tags
  • GSAT-6A में 6 मीटर व्यास वाला एंटीना लगा है। यह सामान्य से तीन गुना चौड़ा है। इससे बेहतर कम्युनिकेशन मिलेगा।
  • इसरोश्रीहरिकोटा. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आज GSAT-6A सैटेलाइट की लॉन्चिंग की। इस फाइनेंशियल ईयर की यह आखिरी लॉन्चिंग है। यह सैटेलाइट 10 साल काम करेगा। इसे जियोसिंक्रोनस लॉन्च व्हीकल (जीएसएलवी-एफ08) से भेजा गया। इस सैटेलाइट से मोबाइल कम्युनिकेशन बेहतर होगा।

    GSAT-6A कैसा है?

    – 270 करोड़ रुपए लागत

    – 21.40 क्विंटल वजन

    – 1.53X1.56X2.4 साइज

    GSAT-6A की खासियत?

    आई-2के बस: इसे इसरो ने ही बनाया है। यह सैटेलाइट को 3119 वॉट पावर देता है।

    एंटीना: छह मीटर व्यास वाला। सैटेलाइट में लगने वाले सामान्य एंटीना से तीन गुना चौड़ा है।

    एस-बैंड: यह मोबाइल की 4-जी सर्विस के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह मौसम की जानकारी देने वाले रडार, शिप रडार, कम्युनिकेशन सैटेलाइट में भी इस्तेमाल होता है।

    क्या काम आएगा?

    – मोबाइल कम्युनिकेशन में मदद करेगा। इसे सेना के इस्तेमाल के हिसाब से भी डिजाइन किया गया है।

    GSLV रॉकेट की खासियत

    – 12वीं उड़ान इस रॉकेट की

    – 6वीं उड़ान इंडीजीनियस क्रायोजेनिक अपर स्टेज की

    – 49.1 मीटर ऊंचाई जीएसएलवी-एफ08 की

    – 4156 क्विंटल वजन (दो रेल इंजन के बराबर)

    2017-18 में हुईं 4 लॉन्चिंग, एक नाकाम

    तारीख सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल
    29 मार्च 2018 GSAT-6A जीएसएलवी-एफ08
    12 जनवरी 2018 कार्टोसेट-2 पीएसएलवी-सी40
    31 अगस्त 2017 आईआरएनएसएस-1एच पीएसएलवी-सी39 (नाकाम)
    29 जून 2017 जीसैट-17 एरियन-5 (फ्रेंच गुयाना से)
    23 जून 2017 कार्टोसेट-2 पीएसएलवी-सी38

    2018-19 में 4 लॉन्चिंग का प्लान

    सैटेलाइट कब लॉन्च व्हीकल
    आईआरएनएसएस-1आई 12 अप्रैल 2018 पीएसएलवी-सी41
    जीसैट-11 साल के मध्य तक एरियन-5 (फ्रेंच गुयाना)
    जीसैट-29 साल के मध्य तक जीएसएलवी-मार्क3-डी2
    चंद्रयान-2 अक्टूबर तक जीएसएलवी-एफ10

    इसरो का सबसे भरोसेमंद पीएसएलवी

    24 साल में 40 उड़ान, सिर्फ 2 बार नाकाम रहा

    पहली नाकामी:20 सितंबर 1993, यह पहली उड़ान थी।

    दूसरी नाकामी:31 अगस्त 2017, यह 39वीं उड़ान थी।

    इसरो की अब तक की उपलब्धियां

    95 स्पेसक्राफ्ट मिशन

    65 लॉन्च मिशन

    9 स्टूडेंट सैटेलाइट

    2 री-एंट्री मिशन

    237 विदेशी उपग्रह लॉन्च कर चुका

Leave a comment

XHTML: You can use these html tags: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

ताज़ा खबर